Home Tags Poetry

Tag: Poetry

Reflection [Translated In English by Suman K. Sharma]

    Original Dogri poetry is available here   My own mirror perhaps Finds me a stranger still – Lost for centuries as I am In the quest of self. These my...

A Sonorous Song [Translated In English by Suman K. Sharma]

Abjure the clamorous beats of hate And join in the chorus of love, O Mate! Of death have we sung far too long - Come, hum now...

Gift of Blessings

Gift Packed with Blessings Tell me, serviceman, where you are I want to send you a gift Packed with my blessings   You do not have a regular address One...

चौथा पहर

रात का यह चौथा पहर, राधा के लिये , जैसे ज्येष्ठ- आषाढ़ की शिखर दुपहर । तीन पहर बीत गये काहना के हुए दीदार, रात का  यह चौथा...

रिश्ता

बादल बरसा पानी बहा जल-थल एक हुआ धरती ने सहा , अपने सूरज की अमानत मान अपने अंदर भरा। लौटाने की जन्मजात वृत्ति से प्रेरित सृजन में रत्त अपने हृदय से लगा...

संयोग

यह संयोग ही तो एक ईज़ाद की मानिंद, कि चैट-रूम में बिना किसी रंग,रूप और शिनाखत के तुम मुझे मिले थे। और मुझे सोचने पर मजबूर कर गया था तुम्हारा...

मेरा चाँद

डूबते सूरज से नज़र मिलते ही, इशारा समझते ही , विदा होते सूरज की लाली , उसकी समझ में आ गई । और वह लजाकर , छुईमुई सी शर्मा...

रात दी रानी

राती दी बुक्कली च सुत्ती दी कञका दी अक्ख खु'ल्ली कच्छ-कोल अश्कें कुतै अतरै दी शीशी डु'ल्ली । कञका ने माऊ गी पुच्छेआ---- मां ,एह् केह् झुल्लेआ...

Dogra Culture: Knowledge & Beliefs

“Duggar Pradesh”; also famously known as Jammu; is the native land of world’s renowned warriors and artists, named “Dogras”. Jammu is the winter capital...

सलक्खनी घड़ी

में इक बारी कुंभ न्हौन गेदे, अपनी सुर्ती च पेदे, शब्दें मूजब, जे गंगा गेदे तज्जनी होंदी ऐ कोई सभनें शा प्यारी चीज़, म्हेशा-म्हेशा ताईं ते में तज्जी आई...

MOST POPULAR

शीशा

गज़ल

रात दी रानी

Our Authors

Shashi Pathania
8 POSTS0 COMMENTS
Lalit Magotra
7 POSTS0 COMMENTS
Susheel Begana
6 POSTS0 COMMENTS
2 POSTS0 COMMENTS
1 POSTS0 COMMENTS
1 POSTS0 COMMENTS